A+ A A- A A A Login |    Archaeology |    Act |   Contact Us |   Tender |   Circular |   TDS Certificate
Contact no: 0771-2537404
image description
  1. Home
  2. Samman Detail
image description

Sanskrit Bhasha Samman

संस्कृतं नाम दैवीवाग् अन्वाख्याता महर्षिभिः ।
संस्कृतं च संस्कृतिश्च श्रेयसे समुपास्यताम् ।।
संस्कृत भाषा विश्व की समस्त भाषाओं में प्राचीनतम् तथा सर्वोत्तम भाषा है । संस्कृत भाषा ही भारत की प्राणभूत भाषा है तथा भारत वर्ष को एक सूत्र में बांधती है ।
संस्कृत भाषा में ही विश्व साहित्य के प्राचीन ग्रन्थ उपलब्ध है । चारो वेद, उपनिषद्, षड्वेदांग, षड्दर्शन, धर्माशास्त्र, रामायण, महाभारत, नितिशास्त्र, आध्यात्मविद्या, कौटिल्य अर्थशास्त्र, काव्यग्रन्थ, नाट्यग्रन्थ, गीता, पुराण तथा स्मृतिग्रन्थ आदि संस्कृत के महत्व को प्रतिपादित करते हैं ।
राष्ट्रीय गौरव की रक्षा के लिए संस्कृत का प्रचार एवं प्रसार करना सभी का कर्तव्य है ।
।। भारतस्य प्रतिष्ठे द्वे संस्कृतं संस्कृतिस्तथा ।।
छत्तीसगढ़ शासन ने संस्कृति शिक्षा के संवर्धन के लिए संस्कृत भाषा सम्मान स्थापित किया है ।