» प्रर्दशनी
» नाट्य समारोह
» नृत्य समारोह
» मेला महोत्सव/समारोह
» छत्तीसगढ़ पद्मश्री पद्मभूषण पुरुस्कार
 
 
» TRADITIONAL ORNAMENTS
» CHHATTISGARHI VYANJAN
» TRADITIONAL INSTRUMENTS
 
SUCCESSOR LIST
 
OTHER LINKS
दाऊ दुलार सिंह मंदराजी सम्मान

दाऊ दुलार सिंह मंदराजी का जन्म 1 अप्रैल 1910 को खेली ग्राम के सम्पन्न जमींदार परिवार में हुआ था । चार-पांच गांवों की मालगुजारी थी । आपको बचपन से गीत-नृत्य के प्रति खास लगाव था । उन दिनों गांव-गांव में खड़े साज का बोल-बाला था । खड़े साज या मशाल लेकर की जाने वाली मसलहा नाचा प्रस्तुतियों का यह संक्रमण काल था । यह प्रचलित स्वरुप विकसित होकर गम्मत-नाचा का प्रभावी रुप ग्रहण कर मंच पर स्थान बनाता गया । आपने नाचा के मंचीय विकास की यात्रा में भरपूर योगदान दिया ।
आपने इस विधा को विकृति से बचाते हुए परिष्कृत करने का बीड़ा उठाकर खेली गांव के मंचीय प्रदर्शन से प्रयास आरंभ किया । सक्षम कलाकारों से सुसज्जित उनकी टोली धीरे-धीरे लोकप्रियता पाने लगी । छत्तीसगढ़ी नाचा की लोकयात्रा रायपुर, दुर्ग, राजनांदगांव, जगदलपुर, अंबिकापुर, रायगढ़ से टाटानगर तक कई छोटी-बड़ी जगहों में अपना परचम फैलाते बढ़ने लगी । रायपुर के रजबंधा मैदान में खेली दल की नाचा प्रस्तुति को आज भी याद किया जाता है ।
नाचा के माध्यम से अभिनय के क्षेत्र में मदन निषाद, लालू, भुलवाराम, फिदाबाई मरकाम, जयंती, नारद, सुकालू और फागूदास जैसे दिग्गजों को सामने लाने का श्रेय आपको है । नाचा के माध्यम से छत्तीसगढ़ की लोक संस्कृति को जीवन्त रखने और उसके समुचित संरक्षण के लिए अपना तन-मन-धन समर्पित कर दिया । जीवन का आखिरी पहर गुमनामी और गरीबी में गुजारा लेकिन आपने व्यक्तिगत लाभ-प्रशंसा की चाहत को दरकिनार कर केवल नाचा की समृद्धि को जीवन की सार्थकता माना । 1984 को उनका निधन हो गया ।
प्रदर्शनकारी लोक विधा-नाचा को जीवंत रखने, जन सामान्य में उसकी पुनर्प्रतिष्ठा और लोक कलाकारों को प्रश्रय देने वाला यह व्यक्तित्व नई पीढ़ी के लिए प्रेरक है । छत्तीसगढ़ शासन ने उनकी स्मृति में लोक कला/शिल्प के लिए दाऊ मंदराजी सम्मान स्थापित किया है ।

सम्मान ग्रहिता
2001 2002 2003 2004 2005 2006 2009
श्री झाडू राम देवांगन श्री मदन निषाद ---- श्री भुलवाराम यादव सुश्री तीजन बाई श्री गोविंद राम निर्मलकर श्री रामचरण निर्मलकर
श्री दादूसिंह रासधारी ----- श्रीमती सोनाबाई श्री गोविंदराम झारा
2010 2011 2012 2013 2014 2015
----
श्री मानदास टंड़ंन डॉ. रामह्दय तिवारी श्रीमती ममता चंन्द्राकर ----- अधिवक्ता, एल. पी. गोस्वामी श्री अनूपरंजन पाण्डेय श्रीमती पूनम तिवारी (विराट) राजनांदगांव
2016            
           
पं. शिवकुमार तिवारी,
हिर्री माइन्स, बिलासपुर